DharmShakti

Jai Ho

Category: Mantra

सरस्वती मंत्र Saraswati Mantra

सरस्वती देवी को हिन्दू धर्म में सर्वश्रेष्ठ देवी माना जाता है तथा कला, साहित्य और सुर की देवी भी माँ सरस्वती को ही कहा जाता है | सुरों में पारंगत होने के कारण इनको वीणावादिनी भी कहा जाता है | भारत में प्रत्येक वर्ष के माघ शुक्ल पंचमी जिसको वसंत पंचमी भी कहा जाता है, इस read more

शनि मंत्र Shani Mantra in Hindi

हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए कुछ विशेष उपाय बताये गए हैं जिनको करने से शनि देव की वक्र दृष्टि से बचा जा सकता है और शनि देव का आशीर्वाद प्राप्त होता है | मान्यता है कि इंसान के उसके सभी कर्मों चाहे अच्छे हों अथवा बुरे, सबका फल शनि देव read more

हनुमान मंत्र Hanuman Mantra in Hindi

भगवान रामभक्त हनुमान की उपासना से जीवन के सारे कष्ट, संकट मिट जाते है। माना जाता है कि हनुमान एक ऐसे देवता है जो थोड़ी-सी प्रार्थना और पूजा से ही शीघ्र प्रसन्न हो जाते है। मंगलवार और शनिवार का दिन हनुमान जी की पूजा के लिए सर्वश्रेठ हैं । मंगलवार और शनिवार के दिन मंदिर म read more

शिव मंत्र Shiva Mantra in Hindi

शिव मंत्र (Shiva Mantra in Hindi) सृष्टि के रचयेता ब्रह्मा जी तथा पालन करता विष्णु भगवान हैं, परंतु विनाशक देवों के देव महादेव शिव जी हैं जिनको हिन्दू धर्म में सर्वोपरि माना गया है | शिव जी जितने उग्र है उतने ही भोले भी भी हैं इसीलिए उनको भगवान भोलेनाथ भी कहा जाता है | read more

माँ दुर्गा मंत्र Durga Mantra in Hindi

माँ दुर्गा मंत्र (Durga Mantra in Hindi)   हिन्दू पौराणिक कथाओं में देवी दुर्गा सबसे शक्तिशाली हैं | देवी दुर्गा परोपकारी, दया करने वाली और कृपामयी हैं जिसके कारण उनके विभिन्न रूपों की पूजा की जाती है | अनेक रूपों की तरह ही उनके अनेकों नाम हैं, उमा, गौरी, पार्वती, read more

महामृत्युंजय मंत्र Mahamrityunjaya Mantra in Hindi

शिव सत्य हैं और वह परमेश्वर हैं, देवों के देव महादेव, उत्कृष्ट भगवान हैं | शिवभक्तों का मानना है कि शिव स्वयंभू हैं जिसका अर्थ है स्वयं बनाया हुआ | ये भी सत्य है कि भगवान भोलेनाथ नाम के अनुरूप ही भोले हैं, दयावान हैं, अतिशीघ्र प्रसन्न होकर के भक्तों को वरदान देते हैं चा read more

गायत्री मंत्र Gayatri Mantra

गायत्री मंत्र( Gayatri Mantra in Hindi )   “”ॐ भूर्भुव: स्व: तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो न: प्रचोदयात्।””   इस गायत्री मंत्र का उल्लेख शास्त्रों में और वेदों में सर्वश्रेष्ठ मंत्रों में हुआ है | इस शक्तिशाली मंत्र को जप read more

DharmShakti © 2017
error: Content is protected !!